बुलंदशहर हिंसा: खड़ी जीप उल्टे लटके रहे इंस्पेक्टर सुबोध, ऐसे ही छोड़ भाग गए साथी पुलिसवाले

बुलंदशहर हिंसा: खड़ी जीप उल्टे लटके रहे इंस्पेक्टर सुबोध, ऐसे ही छोड़ भाग गए साथी पुलिसवाले

दिल्ली। बुलंदशहर हिंसा में एक बार फिर से भीड़ का क्रूर चेहरा सामने आया है। इस बार भी भीड़ का वो रूप सामने आया है, जिसमें सिर्फ हिंसा ही हुआ है। गोकशी की सूचना पर इंस्पेक्टर सुबोध सिंह (Subodh singh) की भीड़ ने गोली मारकर हत्या कर दी। अपने साथियों के साथ वहां पहुंचे इंस्पेक्टर भीड़ के आगे हार गए लेकिन कई लोगों की जान भी बचा ली।

घायल हो कर लटके थे सुबोध

इंस्पेक्टर सुबोध सिंह (Subodh singh) की हत्या के बाद सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल है। जिसमें इंस्पेक्टर सुबोध सिंह (Subodh singh) अपनी सरकारी गाड़ी से घायल अवस्था में उल्टे लटके हुए हैं, लेकिन कोई उनकी मदद के लिए नहीं पहुंच पा रहा है। साथी पुलिसकर्मी भी डर के मारे अपनी जान बचाने के लिए भाग गए। लेकिन घायल इंस्पेक्टर को अस्पताल पहुंचाने की हिमाकत कोई नहीं कर पाया है।

ये भी पढ़ें:

बुलंदशहर हिंसा: सिर्फ इंस्पेक्टर सुबोध ही नहीं, भीड़ ने यूपी में इन पुलिस अफसरों की भी ली है जान

भीड़ ने दोबारा किया हमला

वायरल वीडियो में इंस्पेक्टर सुबोध सिंह (Subodh singh) गाड़ी की ड्राइवर के पीछे वाली साइट में सिर के बल पर लटके हुए हैं। उनका सिर जमीन से सटा हुआ है। साथ ही कई चोट के निशान भी दिख रहे हैं। लेकिन कोई मदद करने नहीं आया। वहीं, मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार पुलिस जीप का ड्राइवर रामाश्रय सिंह ने घायल इंस्पेक्टर (Subodh singh) को बचाने की कोशिश की। लेकिन भीड़ को देख वह भी भाग गया।

75 लोगों पर मामला दर्ज

मीडिया से बात करते हुए रामाश्रय ने कहा है कि घायल इंस्पेक्टर सुबोध (Subodh singh) खेत के मेड़ के पीछे छिपे बैठे थे। हमने गाड़ी में लादकर उन्हें अस्पताल ले जाने की सोची। तब तक भीड़ ने फिर हमला कर दिया। उसके बाद गाड़ी छोड़ हम भी छिप गए। पुलिस ने इस हिंसा मामले में अब तक 75 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया है। कई आरोपी गिरफ्तार भी हुए हैं लेकिन मुख्य आरोपी अभी फरार है। आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए कार्रवाई लगातार जारी है।

कुख्यातम्, गरमा-गरम

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: