यूपी में गठबंधन की सुगबुगाहट पर सुलगा NDA, कहा मोदी से सब डरे…

यूपी में गठबंधन की सुगबुगाहट पर सुलगा NDA, कहा मोदी से सब डरे…

अखिलेश यादव-मायावती गठबंधन (nda on alliance) की सुगबुगाहट से खिसियाए एनडीए ने खंभा नोचना शुरू कर दिया है। कल सपा-बसपा की ज्वाइट पीसी (Akhilesh Mayawati joint PC) की सूचना के बाद एनडीए नेताओं के एक के बाद एक बयान आने शुरू हो गए हैं।

‘गठबंधन से NDA को डर नहीं’

कल ज्वाइंट पीसी में सपा-बसपा के बीच गठबंधन का औपचारिक ऐलान हो सकता है। सूत्रों के मुताबिक दोनों के बीच सीटों को लेकर फार्मूला भी तय हो चुका है। ऐसे में ये बातें एनडीए के लिए नागवार (nda on alliance) गुजरने लगी है। हालांकि इसे लेकर एनडीए नेता अलग-अलग दलीलें पेश करने में जुटे हैं।

केंद्रीय राज्य मंत्री शिवप्रताप शुक्ला ने कहा (nda on alliance) है कि इस गठबंधन से एनडीए को कोई डर नहीं। उन्होंने तो इसे गेस्ट हाउस कांड से जोड़ते हुए ये तक कह डाला कि डर तो मायावती और अखिलेश को है। उन्होंने कहा कि अखिलेश भी ये नहीं भूले होंगे कि मायावती ने उनके पिताजी को कैसे परेशान किया था।

हालांकि शिवप्रताप शुक्ला सपा-बसपा के फार्मूले (Akhilesh Mayawati joint PC) में कांग्रेस की दो सीट की ख़बर पर तंज भी कसते (nda on alliance) नज़र आए। उन्होंने कहा कि बुआ-भतीजे ने ठीक ही किया कि राहुल गांधी को उनकी हैसियत पहले ही बता दी। उन्होंने कहा कि राहुल गांधी सिर्फ झूठ बोलते हैं और उनको कोई पसंद नहीं करता।

क्या बोले विजय सोनकर शास्त्री?

बीजेपी प्रवक्ता विजय सोनकर शास्त्री ने मायावती और अखिलेश के गठबंधन को लेकर शुभकामनाएं (nda on alliance) तक दे दीं। उन्होंने कहा कि दोनों को एनडीए की तरफ से शुभकामनाएं लेकिन NDA पर इसका कोई असर नहीं पड़नेवाला। उन्होंने कहा कि सपा-बसपा जाति विशेष का प्रतिनिधित्व करनेवाली पार्टियां हैं लेकिन इसके अलावा भी कई जातियां हैं जो दलित और पिछड़े वर्ग में आती हैं।

यूपी के डिप्टी सीएम के बोल

हालांकि इस गठबंधन (Akhilesh Mayawati joint PC) की ख़बरों को लेकर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कुछ भी कहने से इंकार कर दिया लेकिन डिप्टी सीएम (nda on alliance) चुप नहीं बैठे। यूपी के डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा ने कहा कि डरे लोग इस तरह का गठजोड़ करते हैं। उन्होंने कहा कि मोदी जी से सब डरे हैं।

दिनेश शर्मा ने (nda on alliance) ये भी कहा कि चाणक्य का कहना था कि जब विरोधी इकट्ठा हों तो समझो राजा अच्छा कार्य कर रहा है। वहीं उन्होंने इस बात पर भी जोर दिया कि सपा-बसपा के उत्पीड़न को जनता और पार्टी कार्यकर्ता कभी नहीं भूल पाएंगे।

ये भी पढ़ें: उत्तरप्रदेश: बुआ-भतीजा में गठबंधन संभव, कल साझा प्रेस कॉन्फ्रेंस

ये भी पढ़ें: कांग्रेस से ‘बिदकीं’ मायावती, बीजेपी को होगा बंपर चुनावी फायदा!

उन्होंने कहा कि ये गठबंधन विजय नहीं पराजय के लिए हो रहा है। गठबंधन के नेता कौन होंगे इसे लेकर ही ये आपस में लड़ जाएंगे।

गरमा-गरम, पॉलिटिक्सम्, फ्राई स्पेशल

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: