PU में चला ‘pk’ का जादू, अध्यक्ष पद पर JDU की जीत, ABVP का तीन सीटों पर कब्जा

PU में चला ‘pk’ का जादू, अध्यक्ष पद पर JDU की जीत, ABVP का तीन सीटों पर कब्जा

पटना। हो-हंगामे के बीच पटना विश्वविद्यालय छात्रसंघ चुनाव का परिणाम आ ही गया. इस चुनाव में पीके यानि प्रशांत किशोर (Prashant kishor) की रणनीति ही काम आई. जेडीयू ने अध्यक्ष और कोषाध्यक्ष पद पर कब्जा किया. वहीं एबीवीपी ने उपाध्यक्ष समेत तीन पदों पर जीत हासिल की.

जदयू से अध्यक्ष पद के उम्मीदवार मोहित प्रकाश ने एबीवीपी के अभिनव कुमार को 1203 वोटों से मात दी. वहीं, उपाध्यक्ष पद के लिए एबीवीपी की अंजना सिंह ने चुनाव जीता. इसके अलावा महासचिव और संयुक्त सचिव के पद पर भी एबीवीपी ने जीत दर्ज की है.

विरोधी गुटों में नाराजगी

ये भी पढ़ें-PU में ‘pk’ पर पंगा, बिहार में बीजेपी-जेडीयू में घमासान

इधर, परिणाम आने के बाद ही विरोधी गुटों में नाराजगी है. विरोधी गुट चुनाव में धांधली का आरोप लगाया है. यही नहीं, देर रात हुए मतगणना के दौरान छात्रों ने जमकर हंगामा किया, जिसके बाद साइंस कॉलेज गेट पर भारी तादाद में पुलिस बलों की तैनाती कर दी गई थी.

सेंट्रल पैनल के परिणाम

  • मोहित प्रकाश (JDU)         अध्यक्ष
  • सत्यम कुमार (JDU)           कोषाध्यक्ष
  • अंजना सिंह (ABVP)          उपाध्यक्ष
  • मणिकांत मणि (ABVP)      महासचिव
  • रवि राज (ABVP)              संयुक्त सचिव

ये भी पढ़ें-‘बख्श दीजिए जनाब! जीत भी गए तो पीएम नहीं बन जाएंगे’

प्रशांत किशोर ने किया चुनाव को प्रभावित

चुनाव परिणाम आने के बाद आरोप-प्रत्यारोप का खोल शुरू हो गया है. जन अधिकार पार्टी ने आरोप लगाते हुए कहा कि धनबल के दम पर प्रत्याशियों की जीत हुई है. जदयू नेता प्रशांत किशोर (Prashant kishor) ने सत्ता के बल पर चुनाव को प्रभावित किया है. वहीं, बुधवार को वोटिंग से पहले जेडीयू नेता प्रशांत किशोर (Prashant kishor) पर पटना यूनिवर्सिटी (Patna University) के छात्रों ने हमला बोल दिया था. हमला उस वक्त हुआ था जब प्रशांत किशोर (Prashant kishor) सोमवार को विश्वविद्यालय के कुलपति से मिलने पहुंचे थे.

दरअसल मतदान से पहले प्रशांत किशोर (Prashant kishor) लगातार यूनिवर्सिटी के छात्रों से मुलाकात कर रहे थे. आरोप लगता रहा कि प्रशांत किशोर (Prashant kishor) उम्मीदवारों की जीत सुनिश्चित करने के इरादे से पटना विश्वविद्यालय (Patna University) के कुलपति प्रोफेसर रासबिहारी सिंह के मुलाकात करने पहुंचे थे. प्रशांत किशोर (Prashant kishor) पर हमला करने के दौरान छात्रों ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और प्रशांत किशोर (Prashant kishor) के खिलाफ जमकर नारेबाजी की थी.

गरमा-गरम, पॉलिटिक्सम्

One thought on “PU में चला ‘pk’ का जादू, अध्यक्ष पद पर JDU की जीत, ABVP का तीन सीटों पर कब्जा

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: