बाढ़ में बह गए सैकड़ों भारतीयों के काले धन के रिकॉर्ड, क्या विदेशी बैंकों की साजिश है ये?

दिल्ली। 2014 के लोकसभा चुनाव में काले धान की वापसी एक बड़ा मुद्दा था। मोदी सरकार ने लोगों से वादा किया था कि विदेशों में जितना काला धन जमा है अगर उसे वापस लाया जाए तो हर भारतीय के खाते में 15 लाख चला जाएगा। लेकिन बाद में इसे जुमला करार दे दिया गया। अब इस मुहिम को

34 रुपए में पेट्रोल और 37 रुपए में डीजल विदेशों में बेच रही भारत सरकार

फिल्म ‘आखें’ के लिए इस गीत को साहिर लुधियानवी ने 1968 में लिखा था. एक बार फिर इस ‘दर्द’ को लुधियाना के ही रोहित सभरवाल ने पेट्रोल-डीजल की कीमतों को लेकर आरटीआई के जरिए उभारा है. आरटीआई से मिली जानकारी के मुताबिक भारत सरकार विदेशों में 34 रुपए पेट्रोल और 37 रुपए डीजल बेच रही है.