राशि अनुसार भगवान शिव को सावन में इस तरह करें प्रसन्न, मिलेगा शुभ फल

2
14
देवों के देव महादेव

देवों के देव महादेव

दिल्ली। शास्त्रों के अनुसार शिवजी को सावन महीना बहुत प्रिय है। भगवान भोलेनाथ इकलौते ऐसे देवता हैं, जिन्हें सावन में प्रसन्न करना बहुत आसान है। इसलिए वह देवों के देव महादेव कहे जाते हैं।

देवों के देव महादेव

एक तरफ वह प्यार के देवता हैं तो दूसरी तरफ वह सृष्टि के संहारक हैं, जो श्मशान में बसते हैं और जिनके शरीर पर भस्म लिपटी रहती है। जो भूत-प्रेतों के साथ बसते हैं। आइए आपको बताते हैं कि सावन में भोलेनाथ को किस तरह के उपायों से प्रसन्न किया जा सकता है।

मेष

मेष राशि के लोगों को भगवान शिव को शहद, गन्ने के रस से अभिषेक करने पर इन राशि के जातकों को शुभ फल की प्राप्ति होगी।

वृषभ

सावन के हर सोमवार को वृषभ राशि के जातक जल मिश्रित दूध चढ़ाएं, इसके साथ ही आप दही और चंदन और सफेद फूल चढ़ा सकते हैं। पूजा करते समय रुद्राष्टक का पाठ करें।

मिथुन

मिथुन राशि के लोग लाल फूल, बेलपत्र और फलों के रस से शिवजी का अभिषेक करें, इससे उत्तम फल की प्राप्ति होगी।

कर्क

वहीं, कर्क राशि के लोग सावन में हर दिन शुद्ध घी से भोले का अभिषेक करें। साथ ही ओम नम: शिवाय मंत्र का 108 बार जप करें।

सिंह

सिंह राशि वालों को शहद और गुड़ से शिवजी का अभिषेक करने से इस राशि के जातकों को परेशानियों से छुटकारा मिलेगा।

कन्या

कन्या राशि के लोग गंगाजल से शिवजी का अभिषेक करना शुभ रहेगा।

तुला

इसके साथ ही तुला राशि के जातक धतुरा, दूध, दही और गन्ने के रस से शिवजी का अभिषेक करें।

वृश्चिक

वृश्चिक राशि के लोगों को लाल फूल और शहद से अभिषेक करने से भगवान इस राशि वालों पर अपनी कृपा बरसाएंगे।

धनु

धनु राशिवाले सावन में हर रोज भगवान शिव का केसर युक्त दूध से अभिषेक करें, इसके बाद बेलपत्र और पीला फूल चढ़ाएं।

मकर

वहीं, मकर राशि के लोग तिल और सरसों के तेल से इस सावन भगवान शिव का अभिषेक करें, जिससे हर मनोकामना पूरी होगी।

कुंभ

कुंभ राशिवाले सावन में हर रोज जल में सफेद तिल मिलाकर शिवलिंग पर चढ़ाएं और पूजन करें। साथ ही शिव षडाक्षर मंत्र का 11 बार जप करें। इससे आपकी हर मनोकामना पूरी होगी।

मीन

मीन राशिवाले जातक सावन के हर दिन शिवलिंग पर जल मिश्रित दूध और पीपल जरूर चढ़ाएं, साथ ही रावण रचित शिव तांडव का पाठ करें। इससे भगवान शिव का आशीर्वाद आप पर बना रहेगा।