शमी की ‘हसीन जहां’ और ‘अफेयर’ की कहानी, अमरोहा के घर पर लटका ताला

mohammed shami wife hasin jahan sensational claims against indian cricketer

लखनऊ। क्रिकेटर मोहम्मद शमी और उनकी पत्नी हसीन जहां के विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा. कोलकाता से उठा बवंडर अमरोह तक पहुंच गया है. हसीन जहां शमी के अमरोहा स्थित पैतृक घर पहुंचीं. घर में ताला बंद होने की वजह से पड़ोसी के यहां कुछ वक्त गुजार कर लौट गईं.

पुराने आरोप फिर से दोहराए


हसीन जहां एक बार फिर से शमी पर पुराने आरोप दोहराए. उन्होंने कहा कि वो अपना हक लेकर रहेंगी.

स्थानीय पुलिस को भी हसीन जहां ने नहीं बख्शा. उन्होंने कहा कि अमरोहा के डिडौली थाने की पुलिस शमी से मिली हुई है.

कोर्ट तक पहुंचा है मामला


इससे पहले हसीन ने कोलकाता के अलीपुर कोर्ट में मामला दर्जा कराया था.

शमी पर खर्च के लिए पैसे नहीं देने का आरोप लगाया है.

हसीन जहां का ये भी कहना है कि हाल में हुए एक्सीडेंट के बाद दिल्ली में उनसे मिलने गईं.

तो शमी और उनके परिवारवालों ने प्रताड़ित किया.

7 मार्च को शुरू हुआ था ‘हसीन बवंडर’


हसीन जहां का शमी पर इल्जाम है कि उनके दूसरी महिलाओं से रिश्ते हैं. जिसकी वजह से वो प्रताड़ित करते हैं.

7 मार्च को हसीन जहां ने फेसबुक पर लिखते हुए आरोप लगाया कि शमी के कई दूसरी महिलाओं से अफेयर है.

उन्होंने शमी के व्हाट्सअप और फेसबुक मैसेंजर चैट के स्नैपशॉट भी शेयर किए थे.

‘कार से मिली थी गर्भ निरोधक गोलियां’


हसीन जहां ने शमी के परिवारवालों पर भी कई गंभीर आरोप लगाए.

उन्होंने कहा कि शमी के परिवार वाले उन्हें जान से मारने की साजिश की.

शमी के कार से उन्हें गर्भ निरोधक गोलियां मिली थी

पाकिस्तानी महिला से रिश्ते का आरोप


हसीन का आरोप है कि शमी की पाकिस्तानी महिलाओं से रिश्ते हैं.

वे उन्हें होटल में बुलाते हैं. इसके अलावा हसीन ने शमी पर मैच फिक्सिंग जैसे गंभीर आरोप भी जड़ दिए.

शमी ने आरोपों को किया था खारिज


हालांकि शमी ने पत्नी के आरोपों को खारिज किया. उन्होंने तमाम रिपोर्ट्स को झूठा करार दिया.

उन्होंने कहा कि उनकी पत्नी का मानसिक संतुलन ठीक नहीं है.

पत्नी के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की भी बात कही.

अब तक पैचअप नहीं हो पाया


इसके अलावा भी मियां-बीवी ने कई आरोप एक-दूसरे पर जड़े.

बीच में लग रहा था कि दोनों के बीच पैचअप हो जाएगा.

मगर नए डेवेलपमेंट से लग रहा है कि मामला जहां से शुरू हुआ था आज भी वहीं है.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: