आप जितना कमाते नहीं होंगे धोनी ने उतना टैक्स भर दिया, अब फाइव स्टार होटल खोलने की तैयारी

आप जितना कमाते नहीं होंगे धोनी ने उतना टैक्स भर दिया, अब फाइव स्टार होटल खोलने की तैयारी

दिल्ली। जितना आप सोचते नहीं होंगे उतना महेंद्र सिंह धोनी ने टैक्स भरा है. बिहार-झारखंड में सबसे ज्यादा. साल का 12 करोड़ 17 लाख यानी एक महीने में 1 करोड़ से ज्यादा इस हिसाब से रोजाना का हिसाब लगा सकते हैं. क्रिकेट के कई रिकॉड्स की तरह माही ने बिहार-झारखंड में सबसे ज्यादा टैक्स भरने का रिकॉर्ड बनाया है.

12 करोड़ 17 लाख टैक्स भरा

क्रिकेट ग्राउंड से बाहर भी ये इनकम टैक्स भरने का रिकॉर्ड भी धोनी के नाम रहा. धोनी ने 2017-18 में 12 करोड़ 17 लाख टैक्स भरा है. टैक्स की ये देनदारी बिहार-झारखंड में सबसे ज्यादा है. आयकर मुख्यालय बिहार-झारखंड की ज्वाइंट कमिश्नर निशा एरोन ने ये जानकारी साझा की है. उन्होंने बताया कि धोनी ने वित्त वर्ष 2017-18 में बिहार में सबसे ज्यादा टैक्स भरा है.

ये भी पढ़ें:

‘खास दोस्त’ की शादी में साक्षी की मस्ती, डांस वाला वीडियो वायरल

PHOTOS: सुहाना खान की बिकनी वाली तस्वीर पर ‘ट्रोलर्स गैंग’ का ‘अटैक’

PHOTO: सही पकड़े हैं…होश उड़ा देगा ‘अंगूरी भाभी’ का हॉट अवतार

विज्ञापनों से धोनी पर ‘धन बरसे’

इससे पहले 2016-17 में 37 साल के धोनी ने 10 करोड़ 93 लाख रुपये टैक्स जमा किया था. इसी तरह धोनी 2013-14 में भी इस रीजन में सबसे ज्यादा टैक्स देने वाले शख्स थे. दुनिया के बिजनेसमैन की कमाई पर नजर रखनेवाली मैगजीन फोर्ब्स के मुताबिक साल 2015 में कैप्टन कूल की नेटवर्थ 111 मिलियन डॉलर यानी करीब 765 करोड़ रुपये थी. उस साल धोनी ने करीब 217 करोड़ रुपए कमाए थे. इसमें 24 करोड़ रुपये के करीब उनकी सैलरी और बाकी पैसा विज्ञापनों से आया था.

रांची में होटल खोलने की तैयारी

फिलहाल महेंद्र सिंह धोनी टेस्ट क्रिकेट से संन्यास ले चुके हैं. वो टेस्ट और वनडे टीम की कप्तानी छोड़ चुके हैं. इस बार उनकी कप्तानी में चेन्नै सुपर किंग्स ने फिर से आईपीएल कप जीता था. धोनी क्रिकेट खेलने के अलावा बाकी खेलों से भी जुड़े हुए हैं. इंडियन सुपर लीग में उनकी एक फटबॉल की टीम है. हॉकी इंडिया लीग में वो रांची टीम की ज्वाइंट मालिक है. इसके साथ ही उन्होंने 2017 में अपनी कपड़े की ब्रैंड सेवन की शुरुआत की थी. अब वो रांची में एक फाइव स्टार होटल बनाना चाहते हैं. इसके लिए उन्होंने राज्य सरकार से मंजूरी मांगी है.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: