Rajgir Glass Bridge: अब वर्ल्ड क्लास स्काई वॉक, जू-सफारी और रोप-वे का भी लीजिए मजा

0
5
Rajgir Glass Bridge

पर्यटन के लिहाज से बिहार का राजगीर अब वर्ल्ड क्लास का हो गया है। यहां बने ग्लास ब्रिज (Rajgir Glass Bridge) को आम लोगों के लिए खोल दिया गया है। साथ ही तकरीबन 20 करोड़ की लागत से यहां जू सफारी में स्काई वाक का मजा भी आप ले सकते हैं। रोप-वे की क्षमता को भी बढ़ाकर 8 सीटर कर दिया गया है।

मजेदार है Rajgir Glass Bridge

अंतर्राष्ट्रीय पर्यटन स्थल राजगीर में ग्लास ब्रिज को आम आदमी के लिए खोल दिया गया। अब देश-दुनिया का कोई भी आदमी ग्लास ब्रिज (Rajgir Glass Bridge) पर जा सकता है। राजगीर में 20 करोड़ की लागत से बने जू-सफारी में स्काई वॉक ग्लास ब्रिज का उद्घाटन हो गया।

एक बार में 20-25 लोग ग्लास स्काई वॉक पर घूम सकेंगे। उन्हें लगेगा मानो वे हरी-भरी वादियों से भरी घाटी के बीच हवा में टंगे हुए हैं। ब्रिज में लगे पारदर्शी ग्लास की मजबूती की पूरी जांच की गई है। इसलिए डरने की कोई बात नहीं है।

सीएम नीतीश ने किया उद्घाटन

सचिन तेंदुलकर की बेटी सारा का फोटो वायरल, लंदन में करती…

भारत की सबसे अमीर महिला को आप कितना जानते हैं? पढ़ाई…

नेचर सफारी में बने ग्लास ब्रिज (Rajgir Glass Bridge) का नीतीश कुमार ने मुआयना भी किया। उनके साथ मंत्री और अधिकारी भी ग्लास ब्रिज पर पहुंचे। इसके अलावा राजगीर के सेफ रोपवे पर आप बेखौफ होकर सपरिवार बैठ सैर कर सकते हैं। अब तक एक बार में एक ही व्यक्ति इस रोपवे पर बैठ सकता था। मगर शुक्रवार को नीतीश कुमार ने 8 सीट वाले रोपवे और नेचर सफारी का उद्घाटन किया।

वर्ल्ड क्लास फन एंड फेसिलिटी

सेक्सी लुक से कोरोना को भगा रहीं शर्लिन चोपड़ा, फैंस के उड़े होश

मुख्यमंत्री ने कहा कि अंतर्राष्ट्रीय पर्यटन स्थल होने के नाते यहां अंतर्राष्ट्रीय स्तर की सुविधाएं देने की कोशिश की गई है। जिसमें ग्लास ब्रिज (Rajgir Glass Bridge), संस्पेंशन ब्रिज, जी-प्लाईनिंग, कैफेटेरिया, वाच टॉवर, रॉक कलाइविंग, आर्चरी रेंज, हिल्स, एडवेंचर पार्क, बटरफ्लाई जोन, नेचर बॉल, रेस्लिंग, वुडेन ब्रिज, चिल्ड्रेन पार्क, ध्यान केंद्र, रोप साइकिलिंग के अलावा कई आकर्षण हैं। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने राजगीर में निर्माण कार्य और फ्लाई ओवर का भी जायजा लिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.