भागलपुर हिंसा: केंद्रीय मंत्री अश्विनी चौबे के बेटे अर्जित को जमानत

अश्विनी चौबे के बेटे अर्जित को जमानत

बिहार के भागलपुर में हिंसा भड़काने के आरोपी अर्जित शाश्वत को जमानत मिल गई.

केंद्रीय मंत्री अश्विनी चौबे के बेटे हैं अर्जित शाश्वत. अग्रिम जमानत नहीं मिलने के बाद 31 मार्च को देर रात पटना में अर्जित ने सरेंडर किया था.

बाद में भागलपुर कोर्ट में पेशी के बाद 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया था.

हालांकि अब ADG-4 की कोर्ट ने उन्हें जमानत दे दी है. नाथनगर में एक धार्मिक जुलूस निकाले जाने के बाद

भागलपुर में सांप्रदायिक हिंसा भड़क उठी थी.

क्यों जल उठा था भागलपुर

भागलपुर में भारतीय नववर्ष जागरण समिति की ओर से विक्रम संवत के पहले दिन नववर्ष को मनाने के लिए एक जुलूस निकाला गया था.

मेदिनीनगर पहुंचने पर स्‍थानीय लोगों ने विरोध किया और दो समुदायों में संघर्ष शुरू हो गया.

एफआईआर में कहा गया था कि जुलूस का नेतृत्व अर्जित कर रहे थे.

FIR को बताया था झूठ का पुलिंदा

अर्जित के सरेंडर करने को लेकर बिहार में राजनीति अपने चरम पर थी.

उनके पिता अश्विनी चौबे समेत बिहार बीजेपी के कई नेताओं ने उपद्रव में बेवजह फंसाने का आरोप लगाया था.

केंद्रीय मंत्री अश्विनी चौबे ने बेटे का पक्ष लेते हुए एफआईआर को झूठ का पुलिंदा बताया था.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: