राहुल गांधी के सामने यक्ष प्रश्न, सीएम पद के दावेदारों में पुराने और नए चेहरे, किसे दें मौका?

0
11
कंगाल हो रही है कांग्रेस, 2019 में मोदी से मुकाबला के लिए भी कम पड़ेंगे पैसे!

राहुल गांधी के सामने यक्ष प्रश्न, सीएम पद के दावेदारों में पुराने और नए चेहरे, किसे दें मौका?

दिल्ली। भारतीय राजनीति में पिछले कुछ दिनों से हाशिए पर चल रही कांग्रेस पांच राज्यों में हुए चुनाव में जबरदस्त वापसी की है। भाजपा शासित तीन राज्यों पर कब्जा कर लिया है। इसके साथ ही राहुल गांधी (Rahul gandhi) के सामने अब नया सवाल खड़ा हो गया। क्योंकि तीनों राज्यों में कांग्रेस सरकार बनाने जा रही है। ऐसे में सीएम किसको बनाएं यह राहुल (Rahul gandhi) के सामने यक्ष प्रश्न हैं। खासकर मध्यप्रदेश और राजस्थान में तो ज्यादा मुश्किल है। वहां युवा चेहरे और तर्जुबे और अनुभवी भी सीएम पद के दावेदार हैं।

राजस्थान में गहलोत या सचिन

Rahul gandhi: सीएम पद के दावेदारों में पुराने और नए चेहरे, किसे दें मौका?

सबसे पहले बात राजस्थान की करते हैं। यहां सीएम पद के दो दावेदार हैं। एक प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष सचिन पायलट और पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत हैं। लेकिन पार्टी में गहलोत के मुकाबले सचिन की स्वीकार्यता कम है। वहीं, जनाधार के मामले में भी अशोक गहलोत पायलट से आगे खड़ा हैं। लेकिन सचिन के समर्थक लगातार मांग कर रहे हैं, उन्हें सीएम बनाया जाए। चुनाव के नतीजे आने के बाद सचिन के समर्थकों ने अशोक गहलोत के सामने ही उन्हें सीएम बनाने की मांग को लेकर नारेबाजी की थी।

दरअसल, अशोक गहलोत राहुल गांधी (Rahul gandhi) का भरोसा जीतकर दिल्ली पहुंच गए हैं, लेकिन राजस्थान में उनकी सर्व स्वीकार्यता उनकी भव्य तरीके से जयपुर में वापसी करा सकती है। इधर दोनों के समर्थक पार्टी मुख्यालय के समाने शक्ति प्रदर्शन कर पार्टी हाईकमान (Rahul gandhi) पर दबाव भी बना रहे हैं। लेकिन सीएम के चयन में पार्टी 2019 का भी ख्याल रखेगी कि बगावत न हो जाए।

मध्य प्रदेश में कमलनाथ या सिंधिया

Rahul gandhi: सीएम पद के दावेदारों में पुराने और नए चेहरे, किसे दें मौका?

वहीं, अगर मध्यप्रदेश में पिछले कई दशकों से जमीन पर काम कर रहे कमलनाथ हैं तो ज्योतिरादित्य सिंधिया भी अपनी विरासत सहेजते हुए राज्य में काफी सक्रिय हैं। दोनों के ही समर्थक जीत के जश्न में मदहोश हैं, लेकिन ताज किसके सिर सजेगा इस पर अब तक संशय बना हुआ है।

राहुल गांधी (Rahul gandhi) के सामने बड़ा सवाल है कि वो तजुर्बेकार कमलनाथ को आगे बढ़ाए या युवा जोश से लबरेज ज्योतिरादित्य सिंधिया पर दांव लगाए। दोनों ही नेताओं के समर्थकों को यकीन है कि मुख्यमंत्री की कुर्सी पर उनका नेता ही काबिज होगा। लेकिन जीत के बाद दोनों नेता एक साथ मंच पर भी आए, इस दौरान दिख रहा था कि अभी भी दोनों में तल्खी बरकरार है। दोनों ने खुद से अभी तक दावेदारी नहीं जताई है और गेंद हाईकमान के पाले में डाल दी है।

छत्तीसगढ़ में बघेल या सिंहदेव

Rahul gandhi: सीएम पद के दावेदारों में पुराने और नए चेहरे, किसे दें मौका?

छत्तीसगढ़ में प्रचंड जीत हासिल करने वाली कांग्रेस के लिए सीएम पद का चुनाव करना वहां भी मुश्किल है। क्योंकि दावेदार कई हैं। इसलिए राहुल गांधी (Rahul gandhi) ने वहां अनोखा तरीका अपनाया है। राहुल गांधी अपने कार्यकर्ताओं से पूछ रहे हैं राज्य में सीएम किसको बनाया जाए।

अगर छत्तीसगढ़ की बात करें तो राज्य में कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष भूपेश बघेल काफी मजबूत चेहरा हैं और सीधी सी बात है कि सीएम का उम्मीदवार उन्हें माना जा रहा है। लेकिन नेता प्रतिपक्ष टीएस सिंहदेव भी सीएम की दौड़ में शामिल हैं। इसके अलावा ताम्रध्वज साहू का नाम भी इसमें शामिल है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.