किस्मत हो तो लखविंदर जैसी, पंजाब लॉटरी ने बना दिया करोड़पति

1
98
किस्मत हो तो लखविंदर जैसी, लॉटरी ने बना दिया करोड़पति

किस्मत हो तो लखविंदर जैसी, लॉटरी ने बना दिया करोड़पति

दिल्ली। एक झटके में अमीर बनने को लॉटरी लगना कहते हैं. अगर किसी की लॉटरी ही लग जाए तो…फिलहाल उसे लखविंदर कौर कहा जा रहा है. किस्मत चमकाने के लिए वैसे तो हजारों लोग लॉटरी खरीदते हैं मगर हर किसी किस्मत लखविंदर जैसी नहीं होती. पंजाब सरकार की दिवाली बंपर का पहला प्राइज बठिंडा की लखविंदर कौर ने जीता. गुलाबगढ़ की रहनेवाली लखविंदर को प्राइज मनी डेढ़ करोड़ रुपए मिलेंगे.

200 की लॉटरी से 1.5 करोड़

दरअसल, अपनी मां के साथ दिवाली से एक दिन पहले खरीदारी करने लखविंदर बठिंडा गई हुई थीं, वहां पर पंजाब सरकार की लॉटरी बिक रही थी. काफी जिद्द करने के बाद मां ने उन्हें लॉटरी खरीदने के लिए 200 रुपए दिए. लखविंदर ने लॉटरी खरीदा और घर आ गईं. फिर दिवाली की तैयारियों में लग गईं. दिवाली बीत गया और लखविंदर पढ़ाई के साथ घरेलू काम में जुट गईं. पंजाब की लॉटरी का ड्रॉ हुआ तो लखविंदर ने बताया कि स्टॉलवालों का फोन आया. उन्होंने बताया कि हम लॉटरी में डेढ़ करोड़ रुपए जीते हैं. फिर तो मेरी खुशी का ठिकाना नहीं रहा. मेरा पूरा परिवार खुश है. अब बधाई देनेवालों का तांता लगा हुआ है. गरीब की बेटी करोड़पति बन गई है.

बैंक ऑफिसर बनने की चाहत

मीडिया से बातचीत में लखविंदर ने कहा कि वो लॉटरी की पैसों से सबसे पहले जमीन खरीदकर एक अच्छा घर बनवाएंगी. इसके बाद शहर जाकर इन पैसों से पढ़ाई करना चाहेंगी. लखविंदर फिलहाल 12वीं क्लास में पढ़ाई करती हैं. गांव के पास में ही स्कूल है. इनके तीन भाई-बहन है और सभी पढ़ाई करते हैं. लखविंदर ने कहा कि इन पैसों से वो अपने भाई-बहनों को अच्छा पढ़ाई दिलाना चाहेंगी. पढ़ाई के बाद लखविंदर की चाहत एक बैंक ऑफिसर बनने की है. लखविंदर ने कहा कि वो इन पैसों से अपनी मां के लिए जरूर कुछ करना चाहेंगी, क्योंकि मां ने अपने जीवन में बहुत कष्ट सहा है. लखविंदर के पिता परमजीत सिंह बठिंडा एसपी ऑफिस में होम गार्ड के तौर पर काम करते हैं. जिससे पूरे परिवार का खर्चा चलता है.

लॉटरी से बदलती किस्मत

किस्मत हो तो लखविंदर जैसी, पंजाब लॉटरी ने बना दिया करोड़पति

पंजाब की लॉटरी निदेशालय ने कई लोगों की किस्मत बदल दी है. इस बार डेढ़ करोड़ का इनाम 2 लोगों को मिला है. https://punjablottery.in पर इसके नतीजे घोषित किए गए हैं. राज्य सरकार ने इस बार लॉटरी की कीमत भी काफी कम रखी हुई थी. पंजाब में लॉटरी निकलने का सिलसिला नया नहीं है. राज्य लॉटरी ने पंजाब में कई लोगों और परिवारों के जीवन को बदल दिया है. सितंबर में पंजाब के संगरूर का एक मजदूर जो कि रोजाना 250 रुपए कमाता था वो राज्य सरकार की राखी बंपर लॉटरी से करोड़पति बन गया.

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.