रिंग ऑफ फायर’ के सुंडा द्वीप में तबाही की सुनामी, अब तक 293 लोगों की मौत

0
7
tsunami in Indonesia

रिंग ऑफ फायर’ के सुंडा द्वीप में तबाही की सुनामी, अब तक 293 लोगों की मौत

रिंग ऑफ फायर कहे जाने वाले इंडोनेशिया का सुंडा द्वीप सुनामी (tsunami in Indonesia) से तबाह और बर्बाद हो चुका है। तबाही भी ऐसी जिसका अंदाजा लगाना असंभव था। ये आफत की सुनामी बिना वार्निंग के आई। न धरती हिली, ना अलर्ट मिला। लोग जबतक समझ पाते उससे पहले ही मौत की लहरें अपने साथ सबकुछ बहा ले गई। इस तबाही में अब तक तीन के करीब लोगों की मौत हो गई है।

सुनामी से तबाह हुआ इंडोनेशिया

जानकारी मिलने तक सुनामी (tsunami in Indonesia) से 290 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है। मरनेवालों की संख्या बढ़ सकती है क्योंकि कई लोग अब भी लापता हैं। वहीं सुनामी की वजह से एक हजार से ज्यादा लोग जख्मी भी हुए हैं। दरअसल, क्रिसमस की छुट्टियां बिताने समंदर किनारे बड़ी संख्या में लोग जुटे थे। ऐसे में अलर्ट जारी होने से पहले ही तट पर मौजूद लोग लहरों में समा गए।

जान-माल का भारी नुकसान

तबाही की इस सुनामी (tsunami in Indonesia) ने यहां जान-माल को भारी नुकसान पहुंचाया है। दर्जनों इमारतें जमींदोज हो गईं। यहां तक कि समंदर किनारे लाइव परफॉर्मेंस दे रहे सिंगर समेत संगीत का आनंद उठाती पूरी महफिल का सफाया हो गया। फिलहाल रेस्क्यू ऑपरेशन जारी है ताकि अगर कोई फंसा है तो उसे बाहर निकाला जा सके। हालांकि इस वक्त वहां से सिर्फ और सिर्फ बर्बादी की तस्वीरें आ रही हैं ।

क्या रही सुनामी की वजह?

सुनामी (tsunami in Indonesia) क्यों आई ये तो अभी तक पूरी तरह से साफ नहीं है। लेकिन अब तक जो जानकारी मिली है उसके मुताबिक इंडोनेशिया के पास समंदर में ज्वालामुखी फटने से ऊंची लहरें उठीं थी। बता दें कि दुनिया में सबसे ज्यादा सक्रिय ज्वालामुखी इंडोनेशिया में ही हैं।

ये भी पढ़ें: पहचान और पते के प्रमाण के तौर पर आधार कार्ड अब जरूरी नहीं

ये भी पढ़ें: नासा के वैज्ञानिक ने किया दावा, धरती पर आ गए हैं एलियन, मगर इंसान नहीं देख पाएंगे

ज्वालामुखी के चलते इंडोनेशिया में अक्सर भूकंप आते हैं और सुनामी भी। इसकी खास भौगोलिक स्थिति की वजह से ही इसे ‘रिंग ऑफ फायर’ भी कहा जाता है। 28 सितंबर को भी इंडोनेशिया के सुलावेसी द्वीप पर सुनामी आई थी। तब उस सुनामी में ढाई हजार लोग मारे गए थे। वहीं, 2004 में आई सुनामी की वजह से तकरीबन 2 लाख लोग काल के गाल में समा गए थे।

विदेश मंत्री ने ट्वीट कर जताई संवेदना

इंडोनेशिया के दुख की इस घड़ी में भारतीय विदेश मंत्री सुषमा स्वाराज ने ट्वीट कर पीड़ितों के प्रति संवेदना व्यक्त की है। विदेश मंत्री ने थाइलैंड स्थित भारतीय दूतावास को इंडोनेशिया (tsunami in Indonesia) में पीड़ित लोगों की मदद करने को कहा है। भारत के अलावा भी कई और देश इंडोनेशिया की मदद में लगे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.