नहीं मानेगा चीन, डोकलाम के बाद अरुणाचल में तना-तनी

डोकलाम विवाद के बाद भारत और चीन एक बार फिर आमने-समाने आ गए है. अरुणाचल प्रदेश के असफिला इलाके में तनाव पैदा हो गया है. भारतीय सेना की पेट्रोलिंग को लेकर चीन ने आपत्ति जताई है.

नहीं मानेगा चीन

हालांकि भारतीय सेना ने चीनी सेना के इन आरोपों और आपत्तियों को सिरे से खारिज कर दिया.

पेट्रोलिंग को बताया ‘अतिक्रमण’

भारतीय सेना की पेट्रोलिंग को चीन ने ‘अतिक्रमण’ करार दिया है.

रिपोर्ट्स के मुताबिक चीन ने इस मुद्दे को 15 मार्च को बॉर्डर पर्सनेल मीटिंग के दौरान उठाया, जिसे भारतीय सेना ने फौरन सिरे से खारिज कर दिया.

ये बैठक किबिथू इलाके में चीन की तरफ दईमाई चौकी पर हुई थी.

भारत ने कहा कि असफिला अरुणाचल प्रदेश के सुबनसिरी क्षेत्र का हिस्सा है और भारतीय सेना इस इलाके में लगातार पेट्रोलिंग करती आ रही है.

बॉर्डर पर्सनेल मीटिंग के दौरान दोनों देशों की ओर से सीमा पर होने वाली

घुसपैठ की घटनाओं और ऐसे मुद्दों को उठाया जाता है, जिसके चलते सीमा पर तनाव पैदा होने की आशंका होती है.

चीन ने कहा- बढ़ सकता है तनाव

चीनी पीपुल्स लिबरेशन आर्मी के प्रतिनिधिमंडल ने भारतीय सैनिकों के असाफिला में

सघन पेट्रोलिंग का जिक्र करते हुए कहा इस तरह के कथित उल्लंघन से इलाके में दोनों पक्षों के बीच तनाव बढ़ सकता है.

हालांकि चीनी ऐतराज को भारत ने खारिज कर दिया.

अरूणाचल प्रदेश में बमला और किबिथू, लद्दाख में दौलत बेग ओल्डी और चुशुल और सिक्किम में

नाथूला में वास्तविक नियंत्रण रेखा के पास पांच बीपीएम प्वाइंट हैं.

One Comment

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: