सिर्फ 5 मिनट में होगा कोरोना वायरस का टेस्ट, अमेरिकी कंपनी का नया मशीन

3
257
abbott laboratories made kit for corona virus test result in 5 minutes

दिल्ली। कोरोना से मचे कोहराम के बीच अमेरिका के ABBOTT कंपनी से गुड न्यूज आया है. पूरी दुनिया में कोरोना से डर का माहौल है. कई देशों में लॉकडाउन हो चुका है. कई देश में दूसरे फेज का लॉरडाउन होने वाला है. दुनिया के कई देशों की अर्थव्यवस्था तबाही के कागर पर है. इन सबकी वजह सिर्फ और सिर्फ कोरोना है. इन सबके बीच अमेरिका की ABBOTT कंपनी ने 5 मिनट में कोरोना टेस्ट करने वाला मशीन विकसित किया है.

ABBOTT मशीन से 5 मिनट में रिजल्ट

पूरी दुनिया चाह रही है कि कोरोना वायरस की जांच और टेस्ट में तेजी आनी चाहिए. इसी बीच अमेरिका की ABBOTT कंपनी ने दावा किया है कि उसने एक ऐसा डिवाइस बनाया है जिससे कोरोना का टेस्ट सिर्फ 5 मिनट में हो जाएगा. यानी ये पता चल जाएगा कि कोई भी शख्स कोरोना से संक्रमित है या नहीं. खास बात ये मशीन आकार में छोटी है और प्रोटेबल भी है. यानी ज्यादा झंझट नहीं है. कहीं भी इसे लगाया जा सकता है और फटाफट रिजल्ट मिलता चला जाएगा.

अमेरिकी सरकार से मिली मंजूरी

फोर्ब्स डॉट कॉम की रिपोर्ट के मुताबिक अमेरिका के खाद्य और औषधि प्रशासन विभाग ने इसे मंजूरी भी दे दी है. मेडिकल डिवाइस बनाने वाली कंपनी ABBOTT लेबोरेट्रीज ने कोरोना वायरस की जांच के लिए इसका प्रोटेबल टेस्ट प्रदर्शन भी किया है. ABBOTT लेबोरेट्रीज ने अपने एक ट्वीट में यह सूचना दी है कि हम एक परीक्षण शुरू कर रहे हैं जो COVID-19 का पता लगा सकता है. यह परीक्षण 5 मिनट से भी तेजी से होगा. कंपनी ने प्रेस रीलिज में कहा कि यह टेस्ट उसके ID NOW प्लेटफॉर्म पर होगा. यह एक छाटा, हल्का और प्रोटेबल डिवाइस है, जो मॉलिक्यूलर टेक्नोलॉजी पर काम करता है.

5 में पॉजिटिव, 13 मिनट में निगेटिव

ABBOTT के इस ऐलान के बाद लोग आश्चर्यचकित रह गए. ABBOTT के मुताबिक यह टेस्ट 5 मिनट में पॉजिटिव और 13 मिनट में निगेटिव रिजल्ट दे सकता है. दिलचस्प बात है कि यह डिवाइस बेहद छोटा और आसान है. इसका उपयोग क्लीनिक में भी किया जा सकता है. ऐसा भी बताया जा रहा है कि आने वाले दिनों में इससे एक हफ्ते के अंदर पचास हजार से भी ज्यादा टेस्ट किए जाएंगे. दुनिया के कई देशों में कम टेस्ट के चलते सही मामलों की जानकारी सामने नहीं आ रही है. क्योंकि ऐसे किट मौजूद ही नहीं है, जिनके जरिए कोरोना वायरस की पुष्टि में लगने वाला समय को घटाया जा सके.

पूरा अमेरिका कोरोना के गिरफ्त में

उधर अमेरिका पूरी तरह कोरोना वायरस की गिरफ्त में आ चुका है. अमेरिका में कोरोना से संक्रमित कुल मरीजों की संख्या एक लाख के पार चली गई है. अमेरिका ने कोरोना केस के मामले में चीन, इटली और स्पेन को पीछे छोड़ दिया है. यहां अब तक 1 हजार 693 लोगों की मौत हो चुकी है. दुनियाभर में 7 लाख से ज्यादा लोग इंफेक्टेड हैं.

आर्थिक पैकेज से मरेगा कोरोना? दवा की क्यों नहीं हो रही बात?

वो चाइनीज ‘पाप’ जिसकी वजह से पूरी दुनिया खतरे में

कोरोना के बाद भी जिंदा जानवरों को खा रहे चीन के लोग…

खुलने लगी चीन की पोल-पट्टी, वुहान में जमा कर रखे थे 1,500 वायरस

वुहान से बिजिंग नहीं पहुंचने वाला कोरोना, कहीं साजिश तो नहीं?