गुजरात में कचरा ‘महंगा’ और दलित ‘सस्ता’! ये तस्वीरें तो यही कहती हैं

1
5
गुजरात में कचरा 'महंगा' और दलित 'सस्ता'! ये तस्वीरें तो यही कहती हैं
गुजरात में कचरा 'महंगा' और दलित 'सस्ता'! ये तस्वीरें तो यही कहती हैं

गुजरात में कचरा 'महंगा' और दलित 'सस्ता'! ये तस्वीरें तो यही कहती हैं

दिल्ली। गुजरात में दलितों पर अत्याचार के मामले अक्सर सामने आते रहते हैं। ऊना की घटना में जिस तरह दलित युवकों की बेरहमी से पिटाई की गई थी, वो आज भी लोगों के जेहन में बैठा हुआ है।

इसके बाद भी गुजरात में दलितों पर अत्याचार कम नहीं हुए। अब गुजरात के राजकोट से एक दलित व्यक्ति की फैक्ट्री के मालिक द्वारा पीट-पीटकर हत्या किए जाने का दिल दहला देने वाला मामला सामने आया है। दलित की पिटाई का एक वीडियो भी सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है।

पीट-पीटकर हत्या

बताया जा रहा है कि राजकोट के बाहरी शापार इंडस्ट्रियल एरिया में रविवार को रडाडिया इंडस्ट्रीज के मालिक जयसुख रडाडिया और तीन अन्य कर्मचारियों को 40 वर्षीय दलित व्यक्ति मुकेश सावजी वानिया की पीट-पीटकर हत्या कर दी, जबकि उसकी पत्नी की भी बेरहमी से पिटाई की गई।

पुलिस ने वीडियो वायरल होने के बाद हत्या के आरोप में रडाजिया इंडस्ट्रीज के मालिक जयसुख रडाडिया और फैक्ट्री में काम करने वाले तीन अन्य मजदूरों चिराग वोगा, दिव्येश वोरा और तेजस जाला को गिरफ्तार कर लिया है।

दलित पिटाई मुद्दे पर सियासत

वहीं, अब इस मुद्दे पर सियासत भी तेज हो गई है। गुजरात के दलित नेता और विधायक जिग्नेश मेवानी ने दलित युवक की पिटाई का वीडियो ट्वीट किया है और सवाल किया है कि क्या यह है आपका विकास मॉडल।

वहीं, इसे लेकर बीजेपी के अंदर से भी विरोध के स्वर उठने लगे हैं। बीजेपी सांसद उदित राज ने भी दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग की है।

उदित राज ने मीडिया से बात करते हुए कहा है कि अहमदाबाद जैसे शहर में स्थिति इतनी खराब है कि अगर दलित किसी सोसाइटी में रहता है तो उसको सारे लोग तिरस्कृत करते हैं और उसको मजबूर किया जाता है कि वह अपना घर बेच कर चला जाए।

मुझे जानकारी है कि सरकार ने इस पर सख्त कार्रवाई की है। उस पर एफआईआर दर्ज हुई है। उन्होंने कहा है कि सरकार से मैं अनुरोध करता हूं कि जिस निर्दोष को मारा गया है उसको लेकर सख्त सजा दी जानी चाहिए।

गेट पर रस्सी से बांधकर पिटाई

वायरल वीडियो में दिख रहा है कि दलित व्यक्ति को गेट पर रस्सी से बांधकर पीटा जा रहा है। हालांकि शुरुआत में फैक्ट्री का ही कोई अन्य मजदूर उसकी पिटाई करता दिखता है।

बाद में फैक्ट्री मालिक आता है और दलित की पिटाई कर रहे मजदूर के हाथ लोहे का रॉड ले लेता और फिर खुद दलित व्यक्ति की पिटाई शुरू कर देता है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक फैक्ट्री मालिक की पिटाई से मृत दलित व्यक्ति मुकेश सावजी वानिया कचरा बीनने काम करता था। रविवार को मुकेश अपनी पत्नी के कचरा इकट्ठा करने निकला था और फैक्ट्री के पास ही दोनों पति-पत्नी कचरा बीनने लगे।

तभी फैक्ट्री के चार-पांच लोग आए और फैक्ट्री के पास कचरा बीनने से दोनों को मना करने लगे। फैक्ट्री के पास से कचरा बीनने का विरोध करते हुए उन लोगों ने दोनों को पकड़ लिया और बुरी तरह से पिटाई कर दी।

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.