EVM Hacking: चुनाव आयोग ने अमेरिकी हैकर के दावे को किया खारिज

2
8
EVM hacking

EVM हैकिंग: चुनाव आयोग ने अमेरिकी हैकर के दावे को किया खारिज

लंदन (London) में अमेरिकी हैकर के दावे को चुनाव आयोग ने खारिज किया है। चुनाव आयोग ने कहा कि ईवीएम (EVM) फूलप्रूफ है। आयोग ने कहा कि इसे (EVM Hacking) टेंपर नहीं किया जा सकता।

चुनाव आयोग ने बताया कि बीईएल (BEL) और ईसीआईएल (ECIL) में ईवीएम (EVM) को सभी सुरक्षा मानकों को ध्यान में रखकर बनाया जाता है।

कानूनी कार्रवाई की तैयारी में EC

चुनाव आयोग (EC) फिलहाल कानूनी कार्रवाई को लेकर जांच में जुटा है। आयोग जानकारी जुटा रहा है कि लंदन में आयोजित कार्यक्रम पर किस तरह से कानूनी कार्रवाई की जा सकती है।

अमेरिकी हैकर का दावा

अमेरिकी हैकर ने लंदन (London) के एक कार्यक्रम में दावा किया था कि 2014 के लोकसभा चुनाव में ईवीएम (EVM Hacking) को हैक किया गया। हैकर ने ये भी कहा कि हैकिंग की जानकारी बीजेपी नेता गोपीनाथ मुंडे को भी थी।

दावा इस बात का भी किया गया कि गोपीनाथ मुंडे पूरी सच्चाई का खुलासा करनेवाले थे। लेकिन साजिश के तहत उनकी हत्या कर दी गई। चुनाव आयोग ने इस पूरे दावे को गलत करार दिया है। वहीं, 2014 लोकसभा चुनाव के दौरान मुख्य चुनाव आयुक्त रहे वी एस सम्पत ने भी दावे को झूठ करार देते हुये खारिज किया था।

EC ने दी EVM हैक करने की चुनौती

हालांकि 2009 और 2017 में चुनाव आयोग दो बार ईवीएम (EVM Hacking) हैक या टेंपर करने की चुनौती दे चुका है। ये चुनौती राजनीतिक दलों समेत सभी लोगों के लिए थी लेकिन कोई इसे हैक करने आगे नहीं आया।

ये भी पढ़ें: दिल्ली यूनिवर्सिटी छात्र संघ चुनाव में ईवीएम से छेड़छाड़ का आरोप क्यों लग रहा है?

ये भी पढ़ें: बीजेपी की उमा नहीं लड़ेंगी 2019 चुनाव, अब राम मंदिर के लिए करेंगी काम

2017 में दो राजनीतिक दलों ने ये चुनौती स्वीकार भी की लेकिन मौके पर कोई राजनीतिक दल नहीं पहुंची।

2 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.