‘…और टीवी के वो डंडे में पता नहीं क्या ताकत होती है कि खोल देता है मुंह’

1
15
pm modi warns motor mouth leaders and aspirants of ministers post

दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Modi) ने बीजेपी और एनडीए संसदीय दल के नेता चुने जाने के बाद एक लंबा-चौड़ा भाषण दिया. इस दौरान उन्होंने कई मुद्दों पर बात की. उन्होंने अपने सांसदों को ‘छपास और दिखास’ से बचने को सलाह दी. हालांकि खुद मोदी की आलोचना विपक्ष के नेता इन चीजों को लेकर भी करते रहे हैं.

‘छपास-दिखास’ से बचने की सलाह

प्रधानमंत्री मोदी (PM Modi) ने कहा कि ”कभी-कभार अगर पिछले 5 साल का कार्यकाल देखें तो इसके लिए हमें किसी और को दोष देने की जरूरत नहीं है. लेकिन एक छोटी-सी जल्दबाजी इतनी बड़ी तपस्या को, इतने बड़े पुरुषार्थ को डीरेल करने की ताकत रखती है. पिछला जो कार्यकाल रहा, हम चर्चा में इसलिए नहीं रहे की कुछ गलत किया, न ही कोई ऐसा सरकार के प्रति, मिनिस्टर के प्रति तूफान खड़ा हुआ. लेकिन मसाला दिया किसी ने तो हममें से दिया. जो बड़बोलापन है. और टीवी के वो डंडे में पता नहीं क्या ताकत होती है कि खोल देता है मुंह तुरंत. कुछ भी बोल देता है. और बोल देते हैं तो 24-48 घंटे तक उनकी दुकानदारी चलती है और हमारी परेशानी बढ़ती है”.

नए सांसदों को PM Modi की सलाह

नरेंद्र मोदी (PM Modi) ने आगे कहा कि ”कुछ लोगों को तो मैंने देखा है कि जब तक सुबह उठकरके राष्ट्र के नाम संदेश नहीं देते, उनको चैन नहीं आता है. अच्छा, मीडिया के लोगों को भी पता है कि 6 नमूने हैं, वहां सुबह पहुंच जाओ, गेट के सामने खड़े हो जाओ, निकलेगा तो कुछ तो बोलेगा. उससे नुकसान होता है हमें.”

ये भी पढ़ें:

क्या अमेठी में राहुल गांधी को उनके प्रतिनिधि ने ही साजिश रच कर हरा दिया?

एक ओर इस्तीफे पर इस्तीफा, दूसरी तरफ राजतिलक की तैयारी

आगे मोदी (PM Modi) ने कहा कि ”सदन चलने के बाद कुछ कहूंगा तो कुछ लोगों को लगेगा कि शायद यह मेरे लिए कहा है. लेकिन मैं बिल्कुल न्यूट्रल अवस्था में कहता हूं कि हम सब इन चीजों से बचें”. नेताओं खासकर पहली बार संसद आने वालों को अखबारों में छपने और टीवी पर दिखने का मोह त्यागने की नसीहत देते हुए मोदी (PM Modi) ने कहा कि ”आडवाणी जी जब पार्टी का नेतृत्व करते थे तो 2 चीजों से बचने की सलाह देते थे. पहला छपास और दूसरा दिखास. छपने का मोह और टीवी पर दिखने का मोह”. खासकर नए सांसदों को कहा कि (PM Modi) इससे बचें. किसी भ्रम में मत रहिएगा.

मंत्रिमंडल के अटकलों पर चेताया

मंत्रिमंडल में कौन होगा और कौन नहीं होगा इस पर भी मोदी (PM Modi) ने सख्त लहजे में चेताया. उन्होंने कहा कि ”वो खुद तय करेंगे, मीडिया के अटकलबाजियों पर न जाएं. इस देश में बहुत ऐसे नरेंद्र मोदी पैदा हो गए हैं, जिन्होंने (PM Modi) मंत्रिमंडल बना दिया है. अगर सबका टोटल लगाएंगे तो शायद कुछ 5-50 सांसद ही बचेंगे. जो मंत्री के लिस्ट में नहीं आएंगे. और ये (PM Modi) सबसे बड़ा संकट होता है जी. हमको भी लगता है कि उस अखबार में आया है, जरूर मेरा नंबर लगेगा”.

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.