देखें: धोनी ने ऐसे रखा तिरंगे का सम्मान, मैदान में घुसे फैन ने पोछे माही के पैर

0
16
ind vs nz fan breaches security authorities

दिल्ली। सात समंदर पार न्यूजीलैंड में टीम इंडिया हार गई लेकिन महेंद्र सिंह धोनी (Dhoni) ने दिल जीत लिया. दरअसल न्यूजीलैंड की पारी के दौरान एक भारतीय प्रशंसक ने सुरक्षा घेरा तोड़ते हुए मैदान में घुस गया. वो सीधे धोनी की ओर भागा और उनके करीब पहुंच गया. इसके बाद उस फैन ने घुटने के बल बैठकर अपने कुर्ते से धोनी के दोनों जूते (पैर) पोछे. इस दौरान धोनी का ध्यान उस प्रशंसक पर नहीं बल्कि उस तिरंगे पर था, जिसे अपने हाथ में रखकर वो अपने पैर को छू रहा था.

धोनी का ‘कूल’ अंदाज

महेंद्र सिंह धोनी (Dhoni) ने एक बार फिर बता दिया कि एक चैंपियन के रूप में उनकी पहचान क्यों है. मैदान पर अपने कूल अंदाज के लिए पहचाने जाने वाले धोनी (Dhoni) हर छोटी-बड़ी बात का ध्यान रखते हैं. न्यूजीलैंड के खिलाफ खेले गए T-20 इंटरनेशनल मैच के दौरान एक बार फिर उन्होंने इसकी मिसाल पेश की. इस बार धोनी (Dhoni) ने मैदान पर जो फैसला लिया उससे भले ही मैच के रिजल्ट पर कोई फर्क नहीं पड़ा हो, लेकिन उन्होंने हर हिन्दुस्तानी का दिल जीत लिया. धोनी यहां तिरंगे प्रति अपना सम्मान दिखाया.

फैंस को भाया धोनी का अंदाज

हैमिल्टन के मैदान पर जब इंडियन टीम फील्डिंग कर रही थी, तभी धोनी (Dhoni) का एक फैन मैदान में घुस गया. इस दौरान हाथ में तिरंगा लिए यह फैन धोनी (Dhoni) के पास पहुंचते ही उनके पैर छूने के मकसद से अपने घुटनों पर बैठ गया. अपने फेवरेट प्लेयर के इतना करीब पाकर ये फैन इतना जज्बाती हो गया कि हाथ में तिरंगा लिए वो धोनी (Dhoni) के पैर छूने की कोशिश कर रहा था. इस दौरान धोनी ने तिरंगे को जमीन पर नहीं लगने दिया और वक्त रहते उसे फैन के हाथ से तिरंगे को ले लिया. इसके बाद धोनी से मिलने की खुशी में ये फैन दौड़ते हुए मैदान से बाहर चला गया. सोशल मीडिया पर धोनी का ये अंदाज खूब पंसद किया जा रहा है और जमकर तारीफें की जा रही है.

धोनी का 300वां T-20

हैमिल्टन में महेंद्र सिंह धोनी (Dhoni) अपने T-20 करियर का 300वां मैच खेल रहे थे. वो भारत के पहले और दुनिया के 12वें ऐसे खिलाड़ी हैं जिन्होंने 300 या इससे ज्यादा T-20 मैच खेले हों. अपने T-20 करियर में माही ने 6 हजार 136 रन बनाए हैं. इनका (Dhoni) बल्लेबाजी औसत 38.85 का रहा है. इसमें 24 हाफ सेंचुरी शामिल है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.