जलपरियों के स्तन पर सुनहरा कपड़ा क्यों चढ़ाया गया?

2
68
indonesian theme park covers topless mermaid statues

दिल्ली। एक ऐसा देश जिसका धर्म इस्लाम है और संस्कृति रामायण. 90 फीसदी मुस्लिम आबादी वाले इंडोनेशिया पर रामायण की गहरी छाप है. मगर आजकल 2 जलपरियों (Mermaid) को लेकर इंडोनेशिया चर्चा में है. जकार्ता के एक पार्क ने ‘पूर्वी मूल्यों’ का सम्मान करने के लिए 2 निर्वस्त्र मूर्तियों के स्तन को ढंक दिया गया है. राजधानी जकार्ता के एनकोल ड्रीमलैंड पार्क (Ancol dreamland park) में दो जलपरियों की मूर्तियां लगी हैं. ये मूर्तियां पिछले 15 सालों से हैं लेकिन अब इनके स्तन को सुनहरे कपड़े से कवर कर दिया गया.

‘पूर्वी मूल्यों’ के नाम पर कपड़ा?

ये भी पढ़ें: PHOTO: दिशा पाटनी ने शेयर की बिकनी में फोटो, फैंस ने दी एग्जाम की दुहाई

मुस्लिम बहुल इंडोनेशिया में लोग न केवल बेहतर इंसान बनने के लिए रामायण पढ़ते हैं बल्कि इसके पात्र वहां की स्कूली शिक्षा का भी अभिन्न हिस्सा हैं. लोगों का मनना है कि अच्छा मनुष्य बनने के लिए वो रामायण पढ़ते हैं. रामकथा इंडोनेशिया की सांस्कृतिक विरासत का अभिन्न हिस्सा है. मिलीजुली संस्कृति वाले इंडोनेशिया में जलपरियों (Mermaid) के स्तन पर ‘पूर्वी मूल्यों’ के नाम पर कपड़ा चढ़ाने से लोग भी भ्रमित हैं.

ये भी पढ़ें: PHOTOS: सुहाना खान की बिकनी वाली तस्वीर पर ‘ट्रोलर्स गैंग’ का ‘अटैक’

पार्क घूमने आने वालों को भी कुछ नहीं सूझ रहा. वो भी सोच रहे हैं कि आखिर ऐसा करने के लिए पार्क प्रशासन को किसने मजबूर किया. हालांकि मीडिया से बातचीत में प्रशासन ने किसी तरह का दबाव से इनकार किया है. उनका कहना है कि इन जलपरियों (Mermaid) के स्तन को ढंकने का फैसला पिछले साल ही लिया गया था, मगर अब इसे प्रभाव में लाया गया है. ये पूरी तरह से प्रबंधन का का फैसला है किसी तरह का कोई दबाव नहीं है.

‘कला उसकी सुंदरता से वंचित’

ये भी पढ़ें: श्रीलंका की रेत और नीले आसमान के बीच भोजपुरी एक्ट्रेस मोनालिसा की मादक अदा

प्रबंधन का कहना है कि पार्क को परिवार के अनुकूल बनाने के लिए ये फैसला लिया गया. मगर इन मूर्तियों (Mermaid) को बनानेवाले डोलोरोसा सिनागा ने इंटरनेशनल मीडिया से कहा कि पार्क प्रशासन के इस फैसले ने कला को उसकी सुंदरता से वंचित कर दिया है. वहीं जकार्ता के एनकोल पार्क आने वाले लोग भी हैरानी जता रहे हैं. उनका कहना है कि मूर्तियों से उन्हें कोई परेशानी नहीं है. बल्कि इस पर कपड़ा चढ़ा देने से ये अजीब दिख रही है. जलपरी (Mermaid) को कभी कपड़ों से ढंका नहीं देखा गया है. इंडोनेशिया में ऐसा पहली बार हुआ है.

मिलीजुली संस्कृति वाला इंडोनेशिया

दुनिया का सबसे ज्यादा मुस्लिम आबादी वाला यह देश रामायण के साथ जुड़ी अपनी सांस्कृतिक पहचान के साथ बहुत ही सहज है. मगर ‘पूर्वी मूल्यों’ के नाम पर जलपरियों (Mermaid) के स्तन को कपड़ा से ढंके जाने से लोग हैरान हैं. यहां लोगों का मानना है कि धर्म बस इंसान की कई पहचानों में से महज एक पहचान है. लेकिन ‘पूर्व मूल्यों’ और ‘परिवार वालों’ के नाम पर मूर्तियों (Mermaid) के स्तनों को ढंकना लोगों को पच नहीं पा रहा है.

2 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.