अमृतसर रेल हादसा: ‘रावण’ की भी मौत, मां ने की बहू के लिए नौकरी की मांग

'रावण' की भी मौत

दिल्ली। अमृतसर रेल हादसे में ‘रावण’ की भी मौत हो गई. देशभर में रावण दहन की खुशियां मनाई गई, मगर अमृतसर गमगीन है. दरअसल रेल हादसे में जिन 62 लोगों की मौत हुई है उसमें चौड़ा फाटक के पास रावण का किरदार निभाने वाले दलबीर सिंह की भी मौत हो गई. रामलीला के दौरान दलबीर पहले राम का किरदार निभाते थे, लेकिन पहली बार दोस्तों के कहने पर रावण का किरदार निभा रहे थे.

‘रावण’ की भी मौत

रेल हादसा अमृतसर और मनावला के बीच फाटक नंबर 27 पास हुआ. ये हादसा जिस वक्त हुआ, उस वक्त वहां रावण दहन देखने के लिए लोगों की भारी भीड़ जुटी हुई थी. इस रावण दहन में पंजाब सरकार के मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू की पत्नी नवजोत कौर भी मौजूद थीं. बताया जा रहा है रामलीला में रावण का रोल करनेवाले दलबीर सिंह उस वक्त घटनास्थल पर ही मौजूद थे.

दलबीर की 8 माह की बेटी

तेज स्पीड से आती ट्रेन की चपेट में आने से ‘रावण’ की भी मौत (दलबीर सिंह) हो गई. घटना से परिवार वाले सदमे में हैं. दलबीर की आठ महीने की बेटी है. उनकी मां ने सरकार से दलबीर की पत्नी को नौकरी दिलाने की अपील की है. घटना के पंजाब सरकार ने मृतकों के परिजनों को 5-5 लाख रुपए मुआवजे का एलान किया है. रावण का किरदार करने से पहले दलबीर ने अपनी पत्नी से कहा था कि ‘आज रामलीला में उनका किरदार खत्म हो जाएगा. मगर मंच पर और वास्तिक जीवन में उनकी मौत के बीच का फासला इतना कम होगा, ऐसा मैंने कभी सोचा नहीं था’.

ये भी पढ़ें: अमृतसर रेल हादसा: ‘नरसंहार’ करनेवाली ट्रेन के ड्राइवर ने क्या कहा? जानें

पतंग बनाते थे दलबीर

दलबीर के भाई बलबीर के मुताबिक उनके भाई पतंग बनाया करते थे और उसे एक्टिंग करने का बहुत शौक था, इसलिए वो रामलीला में किरदार निभाया करते थे. मगर ये किसे पता था इस हादसे में ‘रावण’ की भी मौत हो जाएगी. मंच पर आखिरी बार रावण का किरदार करने के बाद दलबीर सिंह धनुष उठा कर भीड़ में लोगों के बीच रावण दहन के लिए गए थे. मंच और रेलवे ट्रैक के बीच महज 25 मीटर का फासला है.

2 Comments

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: