पेट्रोल ने लगाई ‘मोदी मैजिक’ में आग? महिमा गानेवालों को दिखने लगी खोट

पेट्रोल ने लगाई 'मोदी मैजिक' में आग? महिमा गानेवालों को दिखने लगी खोट

दिल्ली। उपचुनाव में भारतीय जनता पार्टी को झटका लगा है. 10 राज्यों की 4 लोकसभा और 10 विधानसभा सीटों पर वोट डाले गए. बीजेपी सिर्फ एक लोकसभा और एक विधानसभा की सीट जीत पाई.

इन उपचुनाव के नतीजों को 2019 के लोकसभा चुनाव से पहले एक बड़े संदेश के तौर देखा जा रहा है. उपचुनाव में बीजेपी को मिली हार के तुरंत बाद सहयोगी दलों के सुर बदल गए. जो मोदी मैजिक की महिमा गा रहे थे, उन्हें अब खोट दिखने लगे. तो सबसे पहले रिजल्ट जान लेते हैं-

लोकसभा

  • 1. उत्तर प्रदेश- कैराना लोकसभा सीट पर आरएलडी की तबस्सुम हसन ने बीजेपी की मृगांका सिंह को हराया.
  • 2. महाराष्ट्र- गोंदिया-भंडारा लोकसभा सीट पर एनसीपी के मधुकर कुकड़े ने बीजेपी के हेमंत पटले को हराया.
  • 3. महाराष्ट्र- पालघर लोकसभा सीट पर बीजेपी राजेंद्र गावित ने शिवसेना के श्रीनिवास वनगा को हराया.
  • 4. नगालैंड- नगालैंड लोकसभा सीट पर बीजेपी सपोर्टेड NDPP के तोखहो येपथेमी ने NPF के अपोक जमीर को हराया.

विधानसभा

  • 1. उत्तर प्रदेश- बिजनौर के नूरपुर में समाजवादी पार्टी के नईमुल हसन ने बीजेपी के अवनि सिंह को हराया.
  • 2. बिहार- अररिया के जोकीहाट में आरजेडी के शाहनवाज आलम ने जेडीयू के मुर्शीद आलम को हराया.
  • 3. उत्तराखंड- थराली सीट पर बीजेपी की मुन्नी देवी ने कांग्रेस के जीतराम को हराया.
  • 4. केरल- चेंगन्नुर सीट पर सीपीएम के एस चेरियां ने कांग्रेस को 46 हजार 347 वोटों से हराया.
  • 5. झारखंड- रांची के सिल्ली में जेएमएम की सीमा महतो ने आजसू के सुदेश महतो को हराया.
  • 6. झारखंड- बोकारो के गोमिया में जेएमएम की बबीता देवी ने आजसू उम्मीदवार को हराया.
  • 7. पंजाब- शाहकोट में कांग्रेस के हरदेव सिंह ने अकाली दल के नायब सिंह कोहाड़ को हराया.
  • 8. पश्चिम बंगाल- महेशतला में टीएमसी के दुलाल दास ने बीजेपी के सुजीत घोष को हराया.
  • 9. मेघालय- अंपाती सीट पर कांग्रेस के मियानी डी शिरा ने एनपीपी के जी मोमीन को हराया.
  • 10. कर्नाटक- राजराजेश्वरी सीट पर कांग्रेस के मुनिरत्ना ने बीजेपी के मुनिराजू गौड़ा को हराया.
  • 11. महाराष्ट्र- पलसू-कडेगांव विधानसभा सीट पर कांग्रेस ने निर्विरोध जीत दर्ज की.

ये भी पढ़ें: नीतीश जो अंदर-अंदर कर रहे हैं, वो अब बीजेपी को पता चल गया है!

ये भी पढ़ें: बीजेपी के साथ जाने से नीतीश को हुआ नुकसान..जानिए कैसे?

2 सप्ताह में 4 बार नाखुश नीतीश

आरजेडी से जमी-जमाई दोस्ती तोड़कर एनडीए का पार्ट बनने वाले नीतीश कुमार गाहे-बगाहे केंद्र की फैसलों का आलोचना करने लगे हैं. पिछले 2 हफ्तों में 4 बार नीतीश कुमार केंद्र के फैसलों की आलोचना कर चुके हैं.

असम में बीजेपी की पॉलिसी का विरोध करनेवालों से भी मुलाकात कर चुके हैं. नोटबंदी के मसले पर नीतीश कुमार ने सवाल उठाए थे. विपक्ष के नेता आज भी नोटबंदी की आलोचना करते हैं.

बिहार को मिलनेवाला बाढ़ राहत पैकेज से भी नीतीश कुमार खुश नहीं है. हाल ही में उन्होंने एक ब्लॉग के जरिए बिहार को विशेष राज्य का दर्जा देने की मांग की.

जोकीहाट विधानसभा चुनाव में मिली हार का ठिकरा जेडीयू नेता केसी त्यागी ने बीजेपी के मित्थे फोड़ दिया. उनका कहना है कि पेट्रोल-डीजल की लगातार बढ़ती कीमतें इस हार की वजह है. उन्होंने कहा कि 2019 से पहले एनडीए को दुरुस्त करने की जरुरत है.

ये भी पढ़ें: बिहार की ‘स्पेशल’ पॉलिटिक्स में ट्रंप की एंट्री, आखिर ऐसा क्या हुआ?

ये भी पढ़ें: चुनाव से पहले फिर खुला ‘स्पेशल का बाजार’, समझिए यू-टर्न पॉलिटिक्स का ‘राज़’

शिवसेना ने भी ठोक रखा है ताल

वहीं, बीजेपी की पुरानी सहयोगी शिवसेना ने ताल ठोक रखा है. बाल ठाकरे के वक्त दोस्ती परवान पर थी, मगर उद्धव ठाकरे के राज में तल्खियां बढ़ गई है. रिश्तों में कड़वाहट इस कदर आ चुकी है कि उद्धव ने यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ को चप्पलों से मारने की सलाह दे चुके हैं.

बीजेपी से पीडीपी भी नाखुश

पीडीपी चीफ और जम्मू-कश्मीर की मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती भी सरकार के फैसले को लेकर कई बार नाखुशी जाहिर की हैं. रमजान के दौरान कश्मीर में पूरी तरह सीजफायर की मांग कीं तो राजनाथ सिंह ने खारिज कर दिया.

हालांकि बाद में इसे लागू किया गया. पत्थरबाजों के मसले पर भी दोनों पार्टियों की राय एक-सी नहीं है. जब वो उनसे जुड़ी रहम की मांग लेकर दिल्ली आती हैं, उनकी मांग पूरी नहीं हो पाती.

2 Comments

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: