अमेरिका में कुत्ते का ‘शूटआउट कांड’, अपने मालिक को मारी गोली

1
10

usa dog gunshot emergency hospital labrador pit bull newsfry

दिल्ली। अमेरिका में शूटआउट कोई नई बात नहीं है. अक्सर शूटआउट की दिल दहला देने वाली खबरें अमेरिका के किसी न किसी शहर से आती रहती है. मगर इस बार मामला दूसरा है. इस बार एक कुत्ते ने शूटआउट की वारदात को अंजाम दिया है.

खास बात ये रही कि कुत्ते ने कहीं भीड़ पर फायरिंग नहीं की है बल्कि उसने अपने मालिक पर इसका ट्रायल किया.

उसका निशाना भी सही बैठा. अब अमेरिकी पुलिस कुत्ते को अपने कस्टडी में ले चुकी है.

इस वारदात का गवाह भी वही डॉग लवर है जो अपने डॉग को बड़े ही लाड-प्यार से पाल रहा था.

मगर अब तो ये कुत्ता खूनी बन गया है. उसपर खून का आरोप लगा है.

अब मामला पुलिस से होते हुए कोर्ट तक पहुंचेगा और फिर सुनवाई होगी.

इमरजेंसी सर्विस वालों को भी नहीं हुआ यकीन


मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक रिचर्ड रेम्मे आयोवा शहर के अपने घर में पिटबुल लैब्राडोर कुत्ते बेल्यू के साथ खेल रहे थे.

उसी दौरान उन्हें गोली लगने का अहसास हुआ.

रेम्मे ने बताया की वो कुत्ते को गोदी में जंप लगाने की ट्रेनिंग दे रहे थे.

इसी दौरान बेल्यू का पैर लगने से पिस्तौल की सेफ्टी पिन खुल गई. उनकी बेल्ट में पिस्टल लगी थी.

कुत्ते ने जब गोदी में आने के लिए दोबारा छलांग लगाई तो उसके पैर में फंसकर पिस्तौल का ट्रिगर दब गया.

और गोली चल गई. बाद में जब उनको दर्द का अहसास हुआ तो इमरजेंसी सर्विस को 911 नंबर पर कॉल किया.

इमरजेंसी सर्विस को रेम्मे ने बताया कि उनके कुत्ते बेल्यू ने उन्हें गोली मार दी.

इमरजेंसी सर्विस वालों को यकीन नहीं हुआ. लेकिन रेम्मे ने बार बार कहा तो उनके घर पहुंचे.

कुत्ते से गोली चलने की घटना पर भरोसा नहीं

पुलिस के मुताबिक कुत्ते द्वारा गोली चलाने की ये पहली घटना है.

ऐसी घटना इससे पहले कभी देखी या सुनी नहीं गई.

अमेरिका में गन कंट्रोल मुहिम के लिए काम कर रही संस्था

मॉम्स डिमांड एक्शन फॉर गन सेंस की फाउंडर शेनन वॉट्स ने कहा कि

सिर्फ अमेरिका में ही आप कुत्ते द्वारा गोली चलाने की घटना के बारे में सुन सकते हैं.

वहीं एक्सपर्ट्स का कहना है कि ट्रिगर सेफ्टी लगे होने के

बाद भी कुत्ते से गोली चलने की घटना पर भरोसा नहीं होता.

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.