‘वृंदावन से सुदर्शन चक्र लेकर आया हूं बिहार, भगवान जब कहेंगे तो चला दूंगा’

1
9
Tej Pratap

‘वृंदावन से सुदर्शन चक्र लेकर आया हूं बिहार, भगवान जब कहेंगे तो चला दूंगा’

पटना: काफी दिनों से पार्टी की बैठकों से दूर-दूर रहने वाले आरजेडी नेता तेजप्रताप यादव दोबारा से सियासी गतिविधियों में सक्रिय होते दिख रहे हैं. तेजप्रताप ने मीडिया को श्रीमद्भगवद्गीता दिखाकर कहा कि अगला चुनाव इसी के जरिए लड़ा जाएगा.

तेज प्रताप यादव ने कहा है कि 2019 चुनाव में तैयारियों के लिए युवाओं की बैठक बुलाई है. इस बार चुनाव में युवाओं को और महिलाओं को आगे रखकर काम करना है. छपरा से चुनाव लड़ने के मुद्दे पर उन्होंने कहा कि इस सीट पर प्रत्याशी का फैसला राष्ट्रीय अध्यक्ष का होगा.

गांधी मैदान में बड़ी रैली

तेजप्रताप ने कहा कि हमने तय किया है कि जल्द ही पटना के गांधी मैदान में बड़ी रैली करेंगे. उस रैली में तेजस्वी, राहुल गांधी और अखिलेश सिंह यादव समेत तमाम बड़े नेताओं को आमंत्रित किया जाएगा. बहुत ही भव्य रैली होगी.

ये भी पढ़ें-सीएम बनने से पहले जब भूपेश बघेल को जाना पड़ा था जेल

महाभारत का युद्ध जीतकर रहेंगे

मीडिया के सामने आए तेजप्रताप यादव ने अपने हाथों में श्रीमदभगवदगीता लेकर कहा कि अगली बार इसी के जरिए चुनाव लड़ा जाएगा. खुद को श्रीकृष्ण और छोटे भाई तेजस्वी को अर्जुन बताकर कहा कि दोनों मिलकर दुश्मनों का संहार कर देंगे और महाभारत का युद्ध जीतकर रहेंगे.

जबर्दस्त स्वागत

तलाक की अर्जी के बाद पहली बार तेजप्रताप यादव पार्टी ऑफिस पहुंचे. यहां कार्यकर्ताओं ने उनका जबर्दस्त स्वागत किया. इस दौरान तेज प्रताप ने अपने बयान से ये जता दिया कि वो अपने निजी कारणों से भले परेशान हैं लेकिन 2019 लोकसभा चुनाव में अपने भाई तेजस्वी के साथ कंधे से कंधा मिलाकर काम करेंगे.

पहली बार राजद कार्यालय पहुंचे

गौरतलब है कि पत्नी ऐश्वर्या से तलाक की अर्जी के बाद पहली बार तेज प्रताप यादव पटना स्थित राजद कार्यालय पहुंचे. यहां उन्होंने सभी कार्यकर्ताओं से मुलाकात की. इस दौरान कार्यकर्ताओं ने तेज प्रताप को माला पहनाकर स्वागत किया.

ये भी पढ़ें- सीएम बनने से पहले जब भूपेश बघेल को जाना पड़ा था जेल

बता दें कि तेज प्रताप यादव पिछले कई दिनों से वृंदावन में थे. तलाक की अर्जी के बाद से वह खासे नाराज चल रहे थे. इसी बीच तेज प्रताप ने पटना में सीएम नीतीश कुमार से बंगला आवंटन की मांग भी की थी.

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.