सुंदर पिचाई की सैलरी भारत के हेल्थ रिसर्च बजट से भी ज्यादा, जानकर हैरान रह जाएंगे

1
107
sundar pichai highest paid executives in 2019 as a aphabet and google ceo

दिल्ली। भारत सरकार हेल्थ से जुड़े रिसर्च के लिए जितना बजट एलॉट करती है, उससे ज्यादा सैलरी गूगल के सीईओ सुंदर पिचाई (Sundar Pichai) को मिलता है. भारतीय मूल के सुंदर पिचाई साल-दर-साल कामयाबी की नई कहानी गढ़ रहे हैं.

Sundar Pichai में आखिर क्या है?

अल्फाबेट इंक ने Sundar Pichai की आमदनी को लेकर एक आंकड़ा सार्वजनिक किया है. सुंदर पिचाई गूगल के सीईओ और उसकी पैरेंटल कंपनी अल्फाबेट के भी सीईओ है. अल्फाबेट इंक ने खुलासा किया है कि कंपनी के सीईओ सुंदर पिचाई को 2019 में कुल 28.1 करोड़ डॉलर यानी 2,144.53 करोड़ रुपए सैलरी मिली. दुनिया में सबसे अधिक सैलरी पाने वाले सीईओ सुंदर पिचाई बन गए हैं. गूगल और अल्फाबेट की ओर से जितनी सैलरी सुंदर पिचाई को मिली है, उससे कम भारत सरकार सालाना स्वास्थ्य रिसर्च पर खर्च करती है.

हेल्थ रिसर्च बजट से भी ज्यादा सैलरी

भारत सरकार ने 2020-21 में हेल्थ रिसर्च पर 2,122 करोड़ रुपए का बजट एलॉट किया है. इसमें 85 फीसदी इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च यानी ICMR को दिए गए. यहीं संस्था कैंसर, हार्ट अटैक, डायबिटीज समेत कई बीमारियों पर रिसर्च करती है. साथ ही कोरोना पर भी यहीं संस्था रिसर्च कर रही है. Sundar Pichai की सैलरी की ये डाटा पिछले साल की 2020-21 का डेटा आना अभी बाकी है. सुंदर पिचाई को साल 2018 में 19 लाख डॉलर (135 करोड़ रुपए) के वेतन भत्ते के तौर पर मिले थे. इसमें 6.5 लाख डॉलर (4.6 करोड़ रुपए) बेसिक सैलरी थी. पिचाई को पिछले साल गूगल के सीईओ से प्रमोट कर अल्फाबेट कंपनी का भी सीईओ बनाया गया था. सुंदर पिचाई ने लंबे समय से गूगल में बतौर कर्मचारी काम किया.

सुंदर पिचाई की कामयाबियां

Sundar Pichai ने लोकप्रिय ब्राउजर क्रोम और गूगल एंड्रायड के लिए टीम लीडर के तौर पर काम किया. ये प्रोजेक्ट काफी सक्सेस रहा. गूगल के कुछ और पॉपुलर प्रोडक्ट जीमेल और एंड्रायड ऑपरेटिंग सिस्टम पर भी सुंदर पिचाई ने काम किया है. 2015 से गूगल के सीईओ पद पर काबिज हैं. गूगल की शुरुआत 1997 में हुई थी, तब से इन्फॉरमेशन टेक्नोलॉजी की दुनिया में काफी बदलाव आया है.

मदुरै से अमेरिका तक का सफर

सुंदर पिचाई का जन्म 10 जून 1972 को तमिलनाडु के मदुरै में हुआ था. Sundar Pichai की शुरुआती पढ़ाई चेन्नई में हुई. इसके बाद पिचाई ने आईआईटी खड़गपुर से इंजीनियरिंग की. आगे की पढ़ाई के लिए स्टैनफोर्ड यूनिवर्सिटी और फिर पेंसिल्वेनिया यूनिवर्सिटी चले गए. बाद में 2004 में पिचाई ने गूगल कंपनी ज्वाइन किया तब से अब तक का सफर बेहद शानदार रहा है. सुंदर पिचाई की पत्नी अंजली पिचाई आईआईटी खड़गपुर से केमिकल इंजीनिरिंग की हैं. वो राजस्थान के कोटा की रहनेवाली हैं. कॉलेज के दिनों में दोनों की मुलाकात हुई जो आज पति-पत्नी के तौर पर एक-दूसरे के हमसफर हैं.

20 मई तक भारत में खत्म हो सकता है कोरोना वायरस, सिंगापुर यूनिवर्सिटी से आया रिसर्च

लापरवाही के आरोपों पर कनिका ने तोड़ी चुप्पी, कहा- इसलिए चुप नहीं थी कि मैं गलत थी बल्कि…

जिसने वर्दी का ‘चीरहरण’ किया उसे बिहार में अफसर से बना दिया गया डिप्टी डायरेक्टर

भाई किम जोंग उन से ज्यादा ‘हार्टलेस’ होंगी किम यो जोंग? उत्तर कोरिया में ‘बहन’ पर दुनिया की निगाहें

गुटखा, पान मसाला, तंबाकू, सिगरेट और शराब की दुकानें कब खुलेंगी? जानिए

सचिन तेंदुलकर की बेटी सारा का फोटो वायरल, लंदन में करती हैं मेडिकल की पढ़ाई

साड़ी में दिखने वाली ‘मिसेज शर्मा’ का हॉट अवतार, बिकिनी में दिखी थीं कपिल शर्मा की ऑन स्क्रीन बीवी

कोरोना एक्सपर्ट: भारत में 70 दिनों के लिए लॉकडाउन जरूरी, वरना मेहनत बेकार

घर-घर फ्री बांटे जा रहे कंडोम, लॉकडाउन के बाद जनसंख्या न बन जाए मुसीबत

गर्म पानी पीने से शरीर में क्या-क्या होते हैं बदलाव? जानना बेहद जरूरी

Jio-Facebook Deal: मुकेश अंबानी फिर से एशिया में सबसे अमीर, चीन के जैम मा पिछड़े

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.