21वीं सदी में भूत चोरी का मुकदमा, यहां पकड़ाया भूत चोर

1
7
bhoot chor

21वीं सदी में भूत चोरी का मुकदमा, यहां पकड़ाया भूत चोर

मुजफ्फरपुर: 21वीं सदी में ये बात बिलकुल बेमानी लगती है…लेकिन मुजफ्फरपुर में वाकई में ऐसा हुआ है। यहां एक महिला के भूत की चोरी हो गयी। ये बात इतनी बढ़ी कि मारपीट भी हुई और मुकदमा भी। हैरत इस बात की है कि बाद में कोर्ट में इस दलील पर दोनों के बीच सुलह हो गया कि चोर (bhoot chor) ने चुराए गए सभी भूतों को वापस कर दिया है।

यहां पकड़ाया भूत चोर

हथौड़ी थाने के नरमाडीह गांव में रहनेवाली जैलश देवी वैसे तो सब्जी बेचती है लेकिन उसका दावा है कि वो अपनी बालों में जटा धारण कर उसमें अपने भूत रखती है। फिलहाल जैलश देवी के पास चार भूत हैं और वक्त जरूरत पड़ने पर वो भूत खेलाती हैं। जैलश देवी की मानें तो गड़बड़ तब हुई जब उसके चारो भूत दुर्गा पूजा के वक्त अचानक से गायब हो गए। उन्होंने चारो भूत की चोरी का आरोप अपने पड़ोसी पर लगाया। जैलश ने बताया कि उनकी पड़ोसी शांति देवी के पति नंदलाल सहनी ने उनके भूतों की चोरी (bhoot chor) की है।

जब नंदलाल नहीं माना तो उन्होंने मारपीट भी की और फिर हथौड़ी पुलिस थाने में केस (कांड संख्या 246/18) भी दर्ज कराया। पुलिस ने कार्रवाई की और मामला जब कोर्ट पहुंचा तब जाकर दोनों के बीच सुलह हो सका। इस मामले में भी जैलश का कहना है कि जब वो अपने भूतों और देवियों की पूजा कर रही थी तभी नंदलाल सहनी मदद के बहाने वहां आया और उसे बेहोश कर उसके पूरे माल (भूतों) पर हाथ साफ कर गया। अब जबकि उसने उसके भूत लौटा दिए हैं इसलिए वो सुलह को तैयार है।

bhoot chor

भूत चोर की सफाई

इस मामले में जब टीम न्यूजफ्राई ने आरोपी दंपति से संपर्क किया तो और भी चौंकाने वाले तथ्य सामने आए। आरोपी नंदलाल की पत्नी शांति देवी ने भी माना कि जैलश देवी के पास भूत है। उसने ये भी बताया कि जैलश ने अपने भूतों को अपनी बहू को दे दिया था और बेवजह उसके पति (bhoot chor) पर आरोप लगा रही थी।

ये भी पढ़ें: कुशवाहा की ‘एंट्री’ से कितना मजबूत हुआ महागठबंधन? पासवान के ‘पैंतरे’ से बढ़ी बीजेपी की बेचैनी?

ये भी पढ़ें: गरज कर बोले शिवराज सिंह चौहान, ‘टाईगर अभी जिंदा है’

जब मदद की बात पूछी गई तो शांति ने बताया कि उसका पति पूजा में मदद के लिए गया जरूर था क्योंकि जैलश के बहू-बेटे उस दिन गांव से बाहर थे। बाद में मामले की पैरवी कर रहे अधिवक्ता ने भी बताया कि दोनों भूत-प्रेत के नाम पर आपस में लड़ रहे थे और चोरी गए भूत (bhoot chor) वापस होने के बाद ही दोनों में सुलह संभव हो सका।

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.