बीवी से तलाक के लिए विंध्याचल में ‘शत्रुहंता यज्ञ’ करा रहे तेज प्रताप !, राबड़ी आवास में पसरा सन्नाटा

बीवी से तलाक के लिए विंध्याचल में 'शत्रुहंता यज्ञ' करा रहे तेज प्रताप !

पटना। बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद और राबड़ी देवी के बेटे तेज प्रताप तलाक की अर्जी को लेकर सुर्खियों में हैं. लगता है कि परिवार वालों के मनाए जाने के बावजूद वो मानने के मूड में बिल्कुल नहीं है. 2 नवंबर को उन्होंने पटना के फैमिली कोर्ट में तलाक की अर्जी दी थी, 3 नवंबर को अपने पिता से मिलने रांची गए. मगर बात नहीं बनी. उनकी तलाक की अर्जी पर 29 नवंबर को सुनवाई होनी है.

क्या करेंगे तेज प्रताप?

इस बीच वो 2 नवंबर के बाद से अपने घर नहीं लौटे हैं. रांची से लौटने के दौरान वो बोधगया में रूके मगर चुपके से बनारस निकल गए. वहां उन्होंने पूजा-अर्चना की और कहा कि वो गायब नहीं हुए हैं. पूजा-पाठ के लिए बनारस आए हैं. मगर एक बार फिर बनारस से पटना लौटने की बजाए विंध्याचल का रूख कर लिए. दिवाली के मौके पर घरवाले इंतजार करते रहे मगर तेज प्रताप लौट कर घर नहीं आए.

ये भी पढ़ें: तलाक मामले पर तेज प्रताप ने तोड़ी चुप्पी, कहा- घुट-घुटकर जीने से कोई फायदा नहीं

ये भी पढ़ें: जानिए, कौन हैं ऐश्वर्या राय? जिन्हें तेज प्रताप देने जा रहे हैं तलाक

तलाक के लिए शत्रुहंता यज्ञ?

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक तेज प्रताप विंध्याचल में यज्ञ करवा रहे हैं. विंध्याचल में रहनेवाले लालू प्रसाद यादव के पुरोहित ने मीडिया से बातचीत में बताया कि 2 दिन पहले तेज प्रताप ने फोन करके मां के दरबार में ग्रहों की शांति के लिए पूजा करवाने की बात कही थी. उन्होंने आगे कहा कि तेजप्रताप ने इसके लिए अपने कपड़े भिजवा दिए हैं. उसे अभिमंत्रित करके सप्तशती का पाठ किया जा रहा है. कुछलोगों ने बताया कि शत्रुहंता यज्ञ करवाया जा रहा है.

ये भी पढ़ें: तेज प्रताप की तलाक अर्जी में बड़ा पेंच, इतना असान नहीं ऐश्वर्या से डायवोर्स

ये भी पढ़ें: तेज प्रताप के ‘तलाक कांड’ का ‘बाबा एंगल’ क्या है? जानें

‘मैं अकेला हो गया हूं’

ऐश्वर्या से तलाक के मसले पर तेज प्रताप ने पहले ही कह दिया है कि वो अपने फैसले पर अडिग हैं. वो अपने पिता समेत किसी का इस मामले पर कुछ भी सुनने को तैयार नहीं हैं. रांची में अपने पिता लालू प्रसाद से मिलने के बाद तेज प्रताप ने कहा था कि मेरे साथ न मां हैं और न ही पिता. मैं अकेला हो गया हूं. तलाक लेने का मेरा अंतिम फैसला है. मैं इस फैसले से पीछे नहीं हटूंगा. तेज प्रताप यादव ने कहा कि परिवार में कोई भी उन्हें सपोर्ट नहीं कर रहा है. उनके परिवार ने उन्हें नकारते हुए ऐश्वर्या का समर्थन करना शुरू कर दिया है. पिता से मिलने के बाद तेज प्रताप को पटना जाना था लेकिन वो सुरक्षाकर्मियों को चकमा देते हुए वहां से निकल गए थे.

One Comment

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: